Search
Close this search box.

Follow Us

पटना जिले के फुलवारीशरीफ प्रखंड के इस्माईलपुर महादलित टोला में झंडोत्तोलन कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री

पटना जिले के फुलवारीशरीफ प्रखंड के इस्माईलपुर महादलित टोला में झंडोत्तोलन कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री
पटना जिले के फुलवारीशरीफ प्रखंड के इस्माईलपुर महादलित टोला में झंडोत्तोलन कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री

पटना, 26 जनवरी 2024 :- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार, पटना जिले के फुलवारीशरीफ प्रखंड के कुरकुरी ग्राम पंचायत के इस्माईलपुर महादलित टोला में गणतंत्र दिवस के अवसर पर आयोजित झंडोत्तोलन कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री की उपस्थिति में टोले के वयोवृद्ध श्री विपिन रविदास ने झंडोत्तोलन किया।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर महादलित टोला में झंडोत्तोलन कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। आज के इस अवसर पर कुरकुरी ग्राम पंचायत के इस्माईलपुर महादलित टोला में झंडोत्तोलन कार्यक्रम में आप सबों के बीच उपस्थित होकर मुझे खुशी हो रही है। मैं यहां मौजूद सभी लोगों का स्वागत और अभिनंदन करता हूं। इस वर्ष 75वां गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। आज के इस अवसर पर मैं सारे बिहारवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं। 26 जनवरी, 1950 को संविधान लागू हुआ और उस दिन से गणतंत्र दिवस मनाया जाने लगा। स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के अवसर पर महादलित टोला में झंडोत्तोलन का आयोजन किया जाता है, जिसमें मैं शामिल होता हूँ। सांसद, विधायक, विधान पार्षद, जनप्रतिनिधि तथा अधिकारी भी इस कार्यक्रम में शामिल होते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सबके बीच उपस्थित होकर खुशी हो रही है। यहां 29 लाख 66 हजार रुपये की राशि से सामुदायिक भवन सह वर्कशेड का निर्माण कराया जाएगा। इस टोले को अतिरिक्त संपर्कता प्रदान करने के लिए 3 किलोमीटर लंबी सड़क बनाई जाएगी जिसकी लागत 4 करोड़ 44 लाख रुपये होगी। जीविका दीदियों के लिए ग्राम संगठन भवन का निर्माण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्ष 2006 में हमने स्वयं सहायता समूह का गठन करवाया। जीविका समूह से जुड़ी महिलाओं का हमने ही जीविका दीदी नामकरण किया। बिहार में जीविका द्वारा किए गए बेहतर कार्य को उस समय की केंद्र सरकार ने अपनाया और आजीविका नाम से पूरे देश में यह योजना चलाई। जीविका से जुड़कर महिलाएं स्वावलंबी बन रही हैं। यहां जीविका सामुदायिक पुस्तकालय सह कैरियर विकास केंद्र की स्थापना की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोग बिहार को विकसित करने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। हमलोगों ने जाति आधारित गणना का काम करवाया। इसमें जाति की गणना के साथ-साथ एक-एक परिवार की आर्थिक स्थिति का जायजा लिया गया। आरक्षण की सीमा को बढ़ाया गया। अनुसूचित जाति को 20 प्रतिशत, अनुसूचित जनजाति को 2 प्रतिशत, अत्यंत पिछड़ा वर्ग को 25 प्रतिशत और पिछड़ा वर्ग को 18 प्रतिशत आरक्षण का लाभ दिया गया। 50 प्रतिशत से आरक्षण की सीमा को बढ़ाकर 65 प्रतिशत किया गया। अपर कास्ट में आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों को केंद्र सरकार द्वारा 10 प्रतिशत का आरक्षण दिया गया है जिसे हमलोगों ने भी अपने राज्य में लागू किया है। कुल मिलाकर आरक्षण की सीमा 75 प्रतिशत हो गई है। जाति आधारित गणना के बाद यह बात सामने आई कि सभी जाति, वर्ग, धर्म में गरीब परिवार है। इनकी संख्या 94 लाख है। हमलोग प्रत्येक गरीब परिवार को 2-2 लाख रुपये देंगे ताकि वे स्वरोजगार कर सकें। जहां-जहां कुछ कार्य कराने की जरूरत महसूस होती है उसे भी हमलोग पूरा कराते हैं। आप सबके सहयोग से बिहार को विकसित प्रदेश बनाना है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर मैं आप सबको पुनः बधाई देता हूं।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना / मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास सहायता योजना के तहत 14 लाभार्थियों के बीच राशि का स्वीकृति पत्र वितरण किया साथ ही सतत् जीविकोपार्जन योजना/जीविका समूहों को स्वरोजगार हेतु लाभार्थियों को आर्थिक सहयोग हेतु डमी चेक प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने सतत् जीविकोपार्जन योजना के तहत स्वरोजगार करने हेतु 31 जीविका समूहों को 30 लाख 85 हजार रुपये का डमी चेक प्रदान किया साथ ही 121 जीविका समूहों को भी सामूहिक रूप से 1 करोड़ 50 लाख 50 हजार रुपये का डमी चेक प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियमके तहत अनुकंपा के आधार पर श्रीमती दुर्गा देवी और श्रीमती बबीता देवी को नियुक्ति पत्र प्रदान किया। अंधता एवं दृष्टिहानि नियंत्रण कार्यक्रम के तहत लाभुकों के बीच मुख्यमंत्री नेचश्मा वितरण भी किया साथ ही मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के 4 लाभार्थियों को डमीचेक प्रदान किया। इस अवसर पर महादलित टोला में झंडोत्तोलन करनेवाले श्री विपिन रविदास, विधायक श्री गोपाल रविदास, विधान पार्षद श्री रविंद्र कुमार सिंह, पूर्व विधायक श्री अरुण मांझी, फुलवारीशरीफ की प्रखंड प्रमुख श्रीमती ज्योति कुमारी, कुरकुरी पंचायत ग्राम के मुखिया श्री रवि कुमार, सकरैचा पंचायत के मुखिया श्री मंटू कुमार, राज्य नागरिक परिषद के पूर्व महासचिव श्री अरविंद कुमार सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ० एस० सिद्धार्थ, बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सदस्य श्री मनीष कुमार वर्मा, मुख्यमंत्री के सचिव श्री अनुपम कुमार, पटना प्रमंडल के आयुक्त श्री कुमार रवि, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी श्री गोपाल सिंह, पटना प्रक्षेत्र की पुलिस महानिरीक्षक श्रीमती गरिमा मलिक, पटना के जिलाधिकारी श्री चंद्रशेखर सिंह, पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक श्री राजीव मिश्रा सहित अन्य वरीय अधिकारी, गणमान्य व्यक्ति एवं बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Jameeni Hakikat
Author: Jameeni Hakikat

Leave a Comment

Read More

पिछले 24 घंटे में राज्य के 09 जिलों में वज्रपात से 10 लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की,मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने का मुख्यमंत्री ने दिया निर्देश

पिछले 24 घंटे में राज्य के 06 जिलों में वज्रपात से 09 लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की,मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने का मुख्यमंत्री ने दिया निर्देश